भारत

अरविंद केजरीवाल ने विज्ञापन पर 490 करोड़ खर्च किए, रागिनी नायक बोली- 490 करोड़ अपनी जायदाद बेच कर लाए थे जो उड़ा दिए

अरविंद केजरीवाल ने 490 करोड़ की भारी भरकम राशि सिर्फ 17 महिने में खर्च की हैं

आम आदमी बनकर सरकार में आए अरविंद केजरीवाल अब खास आदमी बन चुके हैं. खुलकर सरकारी खजाने में से पैसा उड़ाते हैं तथा वो सब करते हैं जिसका खुद विरोध करते थे।

हाल ही में सूचना के अधिकार (आरटीआई) के ज़रिए पता चला कि अरविंद केजरीवाल ने कोरोना काल में विज्ञापन पर 490 करोड़ रुपए खर्च किए हैं।

यह वहीं कोरोना काल था जब दिल्ली में लोग ऑक्सीजन की कमी से जान गवां रहें थे. अस्पतालों में बैड न होने पर अस्पतालों के बाहर दम तोड़ रहें थे. लेकिन दिल्ली सरकार उस वक्त विज्ञापन पर करोड़ों रुपए बर्बाद कर रहीं थीं।

आपको बता दे कि अरविंद केजरीवाल सरकार ने विज्ञापन पर 490 करोड़ की राशि सिर्फ 17 महिने में खर्च की हैं. इस हिसाब से केजरीवाल सरकार ने प्रतिदिन लगभग 1 करोड़ रुपए विज्ञापन पर खर्च किए हैं।

आरटीआई में मिली जानकारी के अनुसार केजरीवाल सरकार ने सबसे ज्यादा खर्च 103.76 करोड़ रुपए मार्च 2020 में किए हैं. यानी मार्च महीने में दिल्ली सरकार ने हर रोज तीन करोड़ रुपए से ज्यादा विज्ञापन पर खर्च किए हैं।

अरविंद केजरीवाल सरकार द्वारा विज्ञापन पर पैसा बहाने के लेकर कांग्रेस प्रवक्ता रागिनी नायक ने जमकर निशाना साधा।

रागिनी नायक ने कहा, यही है तुम्हारी ‘वैकल्पिक राजनीति’, केजरीवाल? 490 करोड़, अपनी जायदाद बेच कर लाए थे, जो चेहरा चमकाने में उड़ा दिए? बेईमान कहीं के।

रागिनी नायक ने आगे कहा, अपने गाल बजाने के लिए, जनता के 490 करोड़ बरबाद करने वाले मुख्यमंत्री को क्या कहेंगे? ईमानदार या बेईमान. जनता माफ़ नहीं करेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button