भारत

गुरुग्राम में जुम्मे की नमाज़ को लेकर राज्यपाल से मिले कांग्रेसी विधायक, आफताब अहमद बोले- नमाज़ के दौरान रुकावट पैदा करना नाकाबिले बर्दास्त हैं

हिंदुत्ववादी पिछले कई महीनों से जुम्मा की नमाज़ में रुकावट पैदा कर रहें हैं

हरियाणा के गुरुग्राम में जुम्मे की नमाज़ को लेकर छिड़े विवाद के बीच कांग्रेस के विधायकों ने राज्यपाल से मुलाकात की हैं।

कांग्रेस सीएलपी के डिप्टी लीडर चौधरी आफताब अहमद, चौधरी मोहम्मद इलियास खान एवं मम्मन ख़ान ने हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय से मुलाक़ात कर ज्ञापन सौंपा तथा मुसलमानों के संवैधानिक अधिकारों की रक्षा करने की मांग की।

कांग्रेसी विधायकों ने इस मामले से मुख्यमंत्री एवं डीजीपी को भी अवगत कराया हैं।

चौधरी आफताब अहमद का कहना है कि “आज माननीय राज्यपाल को गुडग़ांव नमाज़ मामले में दख़ल देने हेतु पत्र सौंपा. राज्यपाल दख़ल देकर नमाज़ अदा करने वालों के संवैधानिक व लोकतांत्रिक अधिकारों की रक्षा करें. मामले से CM व DGP को भी अवगत कराया, लेकिन उपयुक्त कदम उठाए नहीं गए।

आपको बता दें कि गुरग्राम मस्जिद नहीं होने की वजह से मुस्लिम समुदाय के लोग प्रशासन की इजाज़त से पार्क में जुम्मे की नमाज़ पढ़ते है. जो हफ्ते में एक बार होती हैं. इस नमाज़ में अधिकतम 15-20 मिनट का समय लगता हैं।

लेकिन पिछले 2 महिने से तथाकथित हिंदुत्ववादी संगठनों के लोग हर जुम्मे को नमाज़ स्थल पर पहुंचकर विरोध प्रदर्शन करते हैं. जय श्रीराम के नारे लगाते हैं. तथा नमाज़ में रुकावट पैदा करते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button