भारतराजनीति

सेन्ट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के तहत दिल्ली की चार शाही मस्जिदों को नुकसान पहुंचाया जा सकता है

नरेन्द्र मोदी सरकार का महत्वपूर्ण कार्य सेन्ट्रल विस्टा प्रोजेक्ट का काम बहुत तेजी से चल रहा है इस प्रोजेक्ट के तहत नए संसद भवन एवं प्रधानमंत्री आवास का निर्माण होंगा।

इस प्रोजेक्ट के कारण दिल्ली की चार शाही मस्जिदों को नुकसान पहुंचाने का अंदेशा ज़ाहिर किया गया है यह चारों मस्जिदें दिल्ली वक्फ बोर्ड के अंडर आती है।

सेन्ट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के तहत इंडिया गेट की शाही मस्जिद ज़ाब्ता गंज, उपराष्ट्रपति के घर के पास वाली मस्जिद, कृषि भवन वाली मस्जिद तथा उद्योग भवन वाली मस्जिदों को नुकसान पहुंचाया जा सकता है।

इन चारों मस्जिदों में रोजाना पाँचो वक्त की नमाज़ पाबंदी के साथ पढ़ी जाती है तथा यहाँ पर आम लोगों के साथ बड़े-बड़े मुस्लिम नेता एवं आला अधिकारी भी नमाज़ पढ़ते है।

दिल्ली वक्फ बोर्ड के चेयरमैन अमानतुललाह खान ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं कैबिनेट मंत्री हरदीप पूरी को पत्र लिखकर जवाब मांगा है और दस दिन में जवाब न मिलने पर हाईकोर्ट का दरवाज़ा खटखटाने की बात भी कही है।

अमानतुललाह खान के अनुसार “सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट की वजह से कई पुरानी मस्जिदों को संभावित नुक्सान की ख़बर मिली थी, इस मामले में मैंने आज प्रधानमंत्री मोदी को चिट्टी लिखकर मस्जिदों को नुक़सान न पहुँचाने की माँग की और दस दिनों के अंदर इस मुद्दे पर सरकार का स्पष्टीकरण माँगा।

अमानतुललाह खान का कहना है कि “सेन्ट्रल विस्टा प्रोजेक्ट की वजह से मानसिंह रोड पर ज़ाब्ता गंज मस्जिद, वाइस प्रेसिडेंट आवास की मस्जिद और कृषि भवन की मस्जिद को नुक़सान पहुँचाया जा सकता है।इस संदर्भ में हम प्रधानमंत्री और हरदीप पूरी से राब्ता करेंगें। किसी भी हालात में इन मस्जिदों को नुकसान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

वक्फ बोर्ड की एक टीम ने मस्जिदों का दौरा भी किया है तथा एक रिपोर्ट तैयार करके चेयरमैन को सौंपी है।

Related Articles

2 Comments

  1. An impressive share! I have just forwarded this onto a colleague who has been doing a little homework on this.
    And he in fact bought me lunch because I stumbled upon it for him…
    lol. So allow me to reword this…. Thank YOU for the meal!!
    But yeah, thanks for spending the time to talk about this topic here on your internet site.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button