भारत

सुदर्शन न्यूज के संपादक सुरेश चव्हानके ने मीणा समाज पर अपमानजनक टिप्पणी की, कहा- “जब मैं मीणा बोलू तो कमीणा समझ लेना”

पत्रकारिता के नाम पर नफरत फैलाने वाले सुदर्शन न्यूज ने एक बार फिर अपनी जहरीली आवाज़ से समाज के एक तबके के बारे में अपशब्दों का प्रयोग किया।

सुदर्शन न्यूज के संपादक सुरेश चव्हानके ने अपने चैनल के एक कार्यक्रम के दौरान राजस्थान की “मीणा जनजाति” के बारे में अपमानजनक भाषा का प्रयोग किया।

सुरेश चव्हानके ने कहा कि “जब मैं मीणा बोलू तो कमीणा समझ लेना”। मीणा समुदाय के बारे इस तरह की अपमानजनक टिप्पणी करने के बाद से राजस्थान में बवाल मच गया है।

मीणा समुदाय ने तुरंत सुदर्शन न्यूज के संपादक सुरेश चव्हानके की गिरफ्तारी की मांग की है। तथा गिरफ्तारी न होने पर आंदोलन करने की भी चेतावनी दी है।

सोशल एक्टीविस्ट हंसराज मीणा का कहना है कि “सुदर्शन न्यूज का संपादक सुरेश चव्हानके राजस्थान की मीणा जनजाति के बारें में अपमानजनक भाषा प्रयोग करके बोलता है “जब मैं मीणा बोलूं तो कमीणा समझ लेना”। इस व्यक्ति पर अभी तक कानूनी कार्यवाही क्यों नहीं? आज शाम तक इसकी गिरफ्तारी हो जानी चाहिए।

विधायक सीता सोरेन के अनुसार “TV चैनल पर खुलेआम मीणा समुदाय के बार में अभद्रता के साथ टिपण्णी की जाती है लेकिन केंद्र सरकार चुप है क्यूंकि यह वही कर रहा है जो वह चाहते है। सच्च दिखाने वालो पर IT की रेड पड़ती है लेकिन सुदर्शन जैसे घटिया लोगो पर कार्यवाही कब होगी?”

ट्राईबल आर्मी ने इस मुद्दे को गंभरीता से लेते हुए कहा है कि “माननीय मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी, सुदर्शन न्यूज टीवी नाम के कथित न्यूज चैनल के मालिक सुरेश चव्हाणके मीना आदिवासी समुदाय के खिलाफ नफरत फैलाकर आपके राज्य के सांप्रदायिक माहौल को लगातार खराब कर रहे हैं। राजस्थान पुलिस और दिल्ली पुलिस कार्रवाई क्यों नहीं करती?

फिलहाल घटना को लेकर मीणा समुदाय में काफी गुस्सा है तथा सुरेश चव्हानके की तुरंत गिरफ्तारी की मांग की जा रही है।

Source
Photo Credit:- HW news

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button