भारत

अखलाक़ हत्याकांड: 6 साल बाद भी इंसाफ के लिए भटक रहा हैं परिवार

उत्तर प्रदेश के दादरी में मॉब लिंचिंग के शिकार मोहम्मद अखलाक़ का परिवार आज 6 साल बाद भी इंसाफ के लिए दर-दर ठोकर खा रहा हैं।

28 सितंबर 2015 को दादरी के बिसाहड़ा गांव में तथाकथित हिंदुत्ववादियों की भीड़ ने गाय का मांस रखने की झूठी अफ़वाह फैलाकर मोहम्मद अखलाक़ के घर में घुस कर उन्हें पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया था।

भीड़ को एकत्रित करने के लिए बिसाहड़ा गांव के मंदिर से हिंदुत्वादियो की भीड़ ने ऐलान किया था जिसके बाद उग्र भीड़ ने घर में घुसकर उनकी मॉब लिंचिंग की थी।

उग्र भीड़ ने उनके मोहम्मद अखलाक़ के बेटे दानिश को भी बेरहमी से पीटा था जिसके बाद वह काफ़ी दिनों तक अस्पताल में भर्ती रहें थे।

लेकिन आज 6 साल बाद भी मोहम्मद अखलाक़ के हत्यारे खुलेआम बाहर घूम रहें हैं, परिवार न्याय के लिए भटक रहा हैं।

सोशल एक्टिविस्ट आमिर शिराज़ी का कहना हैं कि “देश मे संविधान व कानून सबके लिए बराबर है लेकिन आज मोहम्मद अखलाक की मौत को 6 साल पूरे हो गए लेकिन अभी तक उनको इंसाफ नही मिला,आरोपी जमानत पर आजाद घूम रहे है,कहीं भी संविधान व कानून की बराबरी वाली बात नजर नही आ रही है
क्या सच मे संविधान व कानून सबके लिए बराबर है?”

सोशल एक्टिविस्ट सलमान खान के अनुसार “28 सितंबर 2015 में हुई दादरी में भीड़ ने कथित तौर पर गोमांस रखने के चलते 52 वर्षीय अखलाक की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी मामले को 6 साल बीत चुके हैं और अभी भी परिवार को न्याय नही मिला आरोपी जेल के बाहर है इन्साफ के लिए तड़पता हिन्दुस्तान का मुसलामान।”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button