भारत

उत्तर प्रदेश: BSP के पूर्व सांसद हाज़ी शाहिद अखलाक़ AIMIM में शामिल हो सकतें हैं, बोले- सेक्युलर पार्टीयो को मुसलमानो का वोट चाहिए मुस्लिम नेता नहीं

हाजी शाहिद अखलाक़ मेरठ के कद्दावर नेता हैं तथा 2004 से 2009 तक मेरठ से सांसद भी रह चुके हैं

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) को जल्द ही बड़ी सफ़लता मिल सकती हैं।

बहुजन समाज पार्टी (BSP) के पूर्व सांसद एवं मेरठ के कद्दावर नेता हाजी शाहिद अखलाक़ जल्द ही असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी में शामिल हो सकते हैं।

हाजी शाहिद अखलाक़ ने फेसबुक पोस्ट के ज़रिए तमाम सेक्युलर पार्टियों पर निशान साधा हैं. तथा लोगो से राय मांगी हैं कि क्या उन्हें एआईएमआईएम में शामिल होना चाहिए या नहीं।

हाजी शाहिद अखलाक़ के अनुसार “अगर मुसलमानो की पार्टी की भी (सत्ता) में भागीदारी हो तो क्या हर्ज है. या सेक्युलर पार्टियों को सिर्फ़ मुसलमानो का वोट चाहिये मुसलमान नेता नहीं चाहिए।

आज़ाम खान साहब को जेल में डाल रखा है. मुसलमानो का वोट लेने वाली पार्टीयाँ चुप क्यों है. क्या ये इनाम मिला है मुसलमानो को वोट के बदले।

इन पार्टीयों को गारंटी देनी पड़ेगी के मुज्जफरनगर जैसे दंगे दुबारा नहीं होंगे. और यह सेक्युलर पार्टियां मुसलमानो को आरक्षण देने की बात क्यों नहीं करते।

नारे हम लगाए. दरियाँ हम बिछायें. वोट हम दे. और राज तुम करो. इसलिए अब वक़्त आ गया है कि मुसलमानो को भागीदारी की माँग करनी चाहिए वरना यूँ ही पीटेंगे. अब मेरा सवाल है आप की राय जानना चाहता हूँ।

https://www.facebook.com/1440321446184315/posts/3051783828371394/

हाजी शाहिद अखलाक़ ने अपनी फेसबुक पोस्ट में इन तमाम सवालों के साथ एआईएमआईएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी का फ़ोटो भी लगाया हैं।

हाजी शाहिद अखलाक़ की इस पोस्ट से तमाम राजनीतिक दलों में हलचल पैदा हो चुकी हैं. तथा सोशल मीडिया पर इनके इस कदम की जमकर तारीफ हो रहीं हैं।

सोशल एक्टिविस्ट राइमा हसन का कहना हैं कि “मेरठ लोकसभा से बसपा के सांसद और मेयर रहे ‘हाजी शाहिद इख़लाक़ साहब’ ने AIMIM पार्टी में शामिल होने के लिए अवाम से सलाह मांगी है. अगर शाहिद साहब AIMIM में शामिल होते हैं तो पश्चिमी यूपी की सियासत में AIMIM की पकड़ काफी मज़बूत होगी. आप सब भी अपनी सलाह ज़रूर दें।

राव शाकिब के अनुसार “पूर्व सांसद हाज़ी शाहिद अखलाक़ साहब आपकी सोच को सलाम हैं. मुझे उम्मीद है बहुत जल्द आप एआईएमआईएम ज्वॉइन करेंगे और बैरिस्टर असदुद्दीन ओवैसी साहब के साथ कंधे से कंधा मिला कर मुसलमानों पर हो रहे हर जुल्म के खिलाफ आवाज़ उठाएंगे. हम आपका AIMIM में हम तहे दिल से खेर मकदम करते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button