भारत

जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्र कैफ़ अली को “द डायना अवॉर्ड” मिलने पर AIMIM ने सम्मानित किया

जामिया मिलिया इस्लामिया के छात्र ने एक बार फिर हिन्दूस्तान को गौरवान्वित किया। कैफ़ अली को इंग्लैंड के “द डायना अवार्ड 2021” अवार्ड से नवाज़ा गया है।

कैफ़ को ये अवार्ड उनके असाधारण प्रोजेक्ट के लिए दिया गया है इस प्रोजेक्ट के ज़रिए कैफ़ ने अपने कम ख़र्च में कोरोना संक्रमित के लिए क्वारन्टीन सेंटर का प्रीफेबरीकेटिड स्ट्रक्चर डिज़ाइन किया है।

जामिया के छात्र कैफ़ अली को ब्रिटानिया का प्रसिद्ध अवार्ड “द डायना अवार्ड-2021” मिलने पर मजलिस के प्रदेश ऑफिस में कैफ को मुबारकबाद देने के लिए एक कार्यक्रम आयोजित किया गया।

मजलिस के प्रदेश ऑफिस में कैफ़ और उनके पिता को प्रदेश अध्यक्ष कलीमुल हफ़ीज़ ने शाल पहनाकर सम्मानित किया और मुबारकबाद दी।

ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुसलीमिन (एआईएमआईएम) दिल्ली के अध्यक्ष कलीमुल हफीज का कहना है कि दुनिया में क्रान्ति हमेशा उन्हीं के द्वारा लाई जाती है जो दुनिया को कुछ देने की स्थिति में होते हैं। जो हाथ फ़ैलाते हैं वे कभी दुनिया का नेतृत्व नहीं कर सकते। बल्कि, जो अनुसंधान और विज्ञान में महत्वपूर्ण कार्य करते हैं और जो ज्ञान और अनुभव के आधार पर दुनिया को सुविधा प्रदान करते हैं, वे नेतृत्व करने में सक्षम हैं।

मजलिस अध्यक्ष ने कहा कि नौजवानों में हुनर और महारत की कमी नहीं है बल्कि उन्हें पॉजिटिव सोच के साथ सही रहनुमाई की ज़रूरत है।

कलीमुल हफ़ीज़ ने कहा कि जामिया मिल्लिया के शिक्षा के स्तर में तब्दीली आई है और यहां के बच्चे जामिया का नाम रोशन कर रहे हैं दूसरे छात्रों को भी कैफ़ के नक्श ए क़दम पर चलते हुए मुल्क व क़ौम की ख़िदमत के लिए नुमाया करने चाहिए।

मजलिस अध्यक्ष ने कहा कि मजलिस का काम है कि समाज के टैलेंट की हिम्मत अफज़ाई करना और होनहार बच्चों की मदद व रहनुमाई करना।
मेरी नौजवानों से अपील है कि वह हालात से ना घबराएँ, मेहनत करें कामयाबी उनका इंतजार कर रही है।

कैफ़ का कहना है कि यह प्रोजेक्ट शरणार्थी कैंप के तौर पर भी प्रयोग में लाया जा सकता है। इसमें वक्त और पैसा दोनों की बचत है इस प्रोजेक्ट पर कैफ़ को अब तक 52 अवार्ड मिल चुके हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button