भारत

यूपी पुलिस में तैनात इंतसार अली को दाढ़ी कटवानी पढ़ती हैं, लेकिन मध्य प्रदेश पुलिस में तैनात राकेश राणा का बिना कटवाए निलंबन वापस हो जाता हैं

इंतसार अली को दाढ़ी रखने के कारण यूपी पुलिस की नौकरी से सस्पेंड कर दिया था

हिंदुस्तान में मुसलमानों के साथ भेदभाव होता हैं यह तो सब जानते हैं लेकिन यह भेदभाव अब खुलेआम होने लगा हैं जो साफ साफ दिखने लगा है।

मामला उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश का हैं जहां पर पुलिस में तैनात दो लोगों को दाढ़ी और मूछ रखने के कारण सस्पेंड कर दिया जाता हैं. लेकिन मुस्लिम समुदाय से संबंधित जवान को दाढ़ी कटवानी पढ़ती है और हिंदू से समुदाय से संबंधित जवान का बिना मूछ कटवाए निलंबन वापस हो जाता हैं।

उत्तर प्रदेश पुलिस में तैनात इंतसार अली को दाढ़ी रखने के कारण नौकरी से सस्पेंड कर दिया था और जब तक उन्होंने दाढ़ी नहीं कटवा ली तब तक उनका निलंबन वापस नहीं हुआ।

दूसरी तरफ मध्य प्रदेश पुलिस में तैनात राकेश राणा ने बड़ी-बड़ी मूछ रख रखीं थीं जिसके लिए उसको सस्पेंड कर दिया. लेकिन उसने मूछ नहीं कटवाने की बात कहते हुए कहा कि “मैं ठाकुर हूं नौकरी छोड़ दूंगा लेकिन मूछ नहीं करवाऊंगा।”

राकेश राणा की इस धमकी के बाद मात्र 24 घंटे में उसका निलंबन वापस हो गया. जिससे पता चलता हैं कि यह खुलेआम हिंदू-मुस्लिम के बीच भेदभाव हैं।

पत्रकार वसीम अकरम त्यागी के अनुसार “मप्र पुलिस के सिपाही राकेश राणा की मूंछों की वजह से उन्हें सस्पेंड कर दिया, जवाब में राकेश ने कहा कि मैं ठाकुर हूं नौकरी छोड़ दुंगा लेकिन मूंछे नहीं, मात्र 24 घंटे में राकेश का निलंबन वापस हो गया। यूपी में इंतिसार अली को दाढी रखने की वजह से सस्पेंड किया गया, उनकी बहाली तब हुई जब उन्होने दाढ़ी कटा ली, इंतसार यूपी के बागपत के एक थाना में तैनात थे। सवाल यह है कि दाढ़ी और मूंछ रखने के नियम कानून क्या हैं?राकेश राणा मूंछ रखने के लिए नौकरी के लिए नौकरी ‘कुर्बान’ करने की ‘धमकी’ देता है तो उसका निलंबन वापस कर दिया जाता है, लेकिन इंतिसार ही दाढी क्यो कटाता है?”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button