भारत

कपिल मिश्रा ने राहुल गांधी के बयान को PFI से जोड़ा, नूरी खान बोली- दंगों के मास्टरमाइंड कपिल मिश्रा को समझना चाहिए कि “जिहाद संघर्ष को कहते हैं”

राहुल गांधी द्वारा त्रिपुरा में मुस्लिम विरोधी हिंसा की निंदा करने पर बीजेपी नेता तिलमिला गए हैं

त्रिपुरा में पिछले एक हफ्ते से ज़ारी मुस्लिम विरोधी हिंसा में एक दर्जन के क़रीब मस्जिद तथा सैकड़ों घरों और दुकानों को आग के हवाले कर दिया गया है।

इस हिंसा में विरोध में अब पूरे देश से आवाज़ बुलंद होने लगीं हैं, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी हिंसा का विरोध किया तथा बीजेपी सरकार पर निशाना साधा।

राहुल गांधी द्वारा मुस्लिम विरोधी हिंसा की निंदा करने पर बीजेपी नेता तिलमिला गए हैं तथा राहुल गांधी के बयान को तोड़ मरोड़ कर पेश रहें हैं।

बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने राहुल गांधी के बयान की तुलना सामाजिक और राजनीतिक संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के बयान से की।

कपिल मिश्रा ने दोनों के बयान के फ़ोटो शेयर करते हुए लिखा हैं कि “Pic 1 – Rahul Gandhi on Tripura
Pic 2 – PFI statement on Tripura

राहुल गांधी और जिहादी संगठन PFI का एकदम एक जैसा स्टैंड, एक जैसी भाषा, एक जैसा बयान. राहुल और PFI का रिश्ता क्या?

जिसका करारा जवाब कांग्रेस प्रवक्ता नूरी खान ने देते हुए कहा कि “दंगे का मास्टरमाइंड कपिल मिश्रा त्रिपुरा में मुस्लिमों के ख़िलाफ़ हो रही हिंसा का विरोध करने पर राहुल गांधी को जिहादी बता रहा है, दंगाई को समझना चाहिए कि जिहाद संघर्ष को कहते है, राहुल जी लोकतंत्र को बचाने और पीएफआई शिक्षा,भुखमरी व बाढ़ क्षेत्र में संघर्ष कर रही है।

आपको बता दें कि कपिल मिश्रा पीएफआई को भारत विरोधी संगठन मानता है. जबकि पीएफआई एक सामाजिक संगठन हैं जो शिक्षा, भुखमरी और गरीब वर्ग के लोगों की मदद करने का काम करता हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button