भारत

मध्य प्रदेश: मुस्लिमों के खिलाफ़ नफ़रत फैलाने वाले पूर्व DG मैथिली शरण गुप्त को IPS एसोसिएशन के ग्रुप से निकाला

मैथिली शरण गुप्त ने व्हाट्सएप ग्रुप में एक पोस्ट शेयर की थीं जिसमें मुस्लिमों को देश के विनाश के ज़िम्मेदार ठहराया था

जब उच्च पदों पर बैठे प्रशासनिक अधिकारी ही एक धर्म विशेष के प्रीति खुलेआम नफ़रत फैला रहें हो तो किससे इंसाफ की उम्मीद की जा सकती हैं।

मध्य प्रदेश में एक ऐसा ही मामला सामने आया हैं जहां पर एक सेवानिवृत्त आईपीएस अधिकारी ने व्हाट्सएप ग्रुप में मुस्लिम विरोधी पोस्ट शेयर की।

बीते शुक्रवार को आईपीएस एसोसिएशन के ऑफिशियल व्हाट्सएप ग्रुप में सेवानिवृत्त आईपीएस अधिकारी मैथिली शरण गुप्त ने एक मुस्लिम विरोधी पोस्ट शेयर की थीं।

पोस्ट में “देश के विनाश के लिए मुसलमानों को जिम्मेदार ठहराया था तथा उसमें यह भी था कि मुसलमान अंग्रेजो के कारण देश में रह रहे थे।”

इस पोस्ट को डालने के बाद मध्य प्रदेश के DGP विवेक जौहरी ने आपत्ति जताई तथा मैथिली शरण गुप्त से इस पोस्ट को डिलीट करने के लिए कहा. लेकिन उन्होंने पोस्ट हटाने से इंकार कर दिया।

जिसपर DGP विवेक जौहरी ने कड़ा रुख अपनाते हुए मैथिली शरण गुप्त को आईपीएस एसोसिएशन के व्हाट्सएप ग्रुप से निकाल दिया।

मैथिली शरण गुप्त 1984 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं तथा वह स्पेशल DG (पुलिस सुधार) के पद से सेवानिवृत्त हुए थे।

आईपीएस एसोसिएशन के व्हाट्सएप ग्रुप से हटाएं जाने के बाद भी मैथिली शरण गुप्त अपनी बात पर कायम हैं. उनका कहना हैं कि उन्होंने ग्रुप में कुछ भी गलत या आपत्तिजनक कंटेंट साझा नहीं किया हैं. बल्कि मैने सच्चाई साझा की हैं।

आपको बता दें कि इससे पहले भी मैथिली शरण गुप्त ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के बारे आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग किया हैं, उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी को पाकिस्तान चले जाना चाहिए था।

मैथिली शरण गुप्त ने भारत को हिंदू राष्ट्र भी बताया हैं. उनके इस प्रकार की मानसिकता को देखते हुए लोग आरोप लगा रहें हैं कि उन्होंने आईपीएस रहते हुए बहुत सारे मुस्लिमों की ज़िंदगी खराब की होगी. क्योंकि मुस्लिमों के प्रीति उनकी नफ़रत जगजाहिर हो चुकी हैं।

पत्रकार कासिफ काकवी का कहना हैं कि “अंदाज़ा लगाइए, मुस्लिमों से नफ़रत करने वाले मैथिली शरण गुप्त जैसे IPS अधिकारियों ने पद पर रहते हुए कितनो की ज़िंदगी ख़राब की होगी?”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button