भारत

मोदी काल में अब तक 5,35,000 करोड़ के बैंक घोटाले हुए, प्रशांत कन्नौजिया बोले- किसी भी घोटाले में दलित मुस्लिम का नाम नहीं हैं सारे चोर एक ही जाति के हैं

प्रशांत कन्नौजिया ने कहा, इस जाति के लोगों का चोरी करना ही मेरिट हैं

छोटी छोटी बात पर घरों पर बुल्डोजर चलाने वालों के राज में बैंकों में अरबों रुपए के घोटाले हो रहें हैं लेकिन आज कोई नहीं बोल रहा घोटाले करने वालों की संपत्ति पर बुल्डोजर चलेगा।

क्या इन लोगों पर बुल्डोजर चलाने की बात इसलिए भी नहीं हो रहीं क्योंकि इनका संबंध दलित, मुस्लिम एवं पिछड़ा वर्ग से नहीं है बल्कि यह लोग उच्च वर्गीय हैं।

खबरों के मुताबिक जब से नरेंद्र मोदी सरकार सत्ता में आई हैं तब से अब तक 5,35,000 करोड़ रुपए के बैंक घोटाले हो चुके हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इस मुद्दे पर ट्विट करते हुए कहा हैं कि “मोदी काल में अब तक ₹5,35,000 करोड़ के बैंक फ़्रॉड हो चुके हैं- 75 सालों में भारत की जनता के पैसे से ऐसी धांधली कभी नहीं हुई. लूट और धोखे के ये दिन सिर्फ़ मोदी मित्रों के लिए अच्छे दिन हैं।”

वहीं राष्ट्रीय लोकदल के एससी/एसटी विंग के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रशांत कन्नौजिया का कहना हैं कि “यह 9000 करोड़, 22000 करोड़ 8000 करोड़ न जाने कितने हज़ार करोड़ के घोटाले में एक भी दलित एक भी पिछड़ा एक भी मुसलमान नहीं शामिल हैं. सारे चोरों की जाति एक है। यही इनका मेरिट है। चोरी करना मेरिट है तो हमें नहीं चाहिए ऐसा मेरिट।”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button