भारत

न्याय की उम्मीद में पिता की अस्थियां लेकर 4 महीने से SC कमीशन के बाहर बैठा हैं शेर सिंह वाल्मीकि का परिवार, रीतू सिंह बोली- किससे न्याय की उम्मीद करें

आरोप हैं कि शेर सिंह वाल्मीकि की हत्या कंपनी मालिक हरदीप यादव ने बिना वजह की थीं

हमारे देश का कानून अंधा होने के साथ-साथ ज़ालिम भी होता जा रहा हैं. जिसके कारण गरीबों, दलितों और अल्पसंख्यकों को अब न्याय मिलना बहुत मुश्किल होता जा रहा हैं।

गुरुग्राम के उद्योग विहार में 4 महीने पहले यानी 10 अगस्त 2021 को शेर सिंह वाल्मीकि की कंपनी मालिक हरदीप यादव ने पीट-पीट कर हत्या कर दी थीं।

परिवार का आरोप हैं शेर सिंह वाल्मीकि की हत्या कंपनी मालिक और उसके दो अन्य साथीयों ने की हैं. जिसके बाद उन्होंने उनको कंपनी के बाहर ही फेंक दिया था।

आरोप हैं कि इस घटना के बाद पुलिस ने आरोपी कंपनी मालिक को बचाने के लिए झूठी एफआईआर लिखी. तथा कंपनी मालिक का बचाव किया।

आरोपियों की गिरफ़्तारी के लिए शेर सिंह वाल्मीकि का परिवार पिछले 4 महीने से पिता की अस्थियां लेकर न्याय की उम्मीद में SC कमीशन के बाहर बैठा हैं. लेकिन न्याय की कोई उम्मीद नज़र नहीं आ रहीं हैं।

सोशल एक्टिविस्ट डॉक्टर रीतू सिंह ने पीड़ित परिवार की आवाज़ बुलंद करते हुए कहा कि “मैं आप सब से यह जानना चाहती हूं कृपया मुझे जरूर बताएं किससे करोगे न्याय की उम्मीद? क्या किसी फरिश्ते का इंतजार है? कि ऊपर से आपके लिए उतर के आएगा और लड़ेगा और आपको आपके अधिकार दिलाएगा? और यूं ही आपके सामने बर्बरता के साथ आपके अपनों को मारपीट के खत्म कर दिया जाएगा?

अपने आप से यह सवाल जरूर पूछना क्या इसे कहते हैं Pay back to society अपने दिल से जरूर पूछना यह फर्ज निभा रहे हैं हम? उस एक इंसान की मेहनत का जिसने दिन रात हमारे लिए जग कर अपनी औलाद को खो दिया, अपने परिवार को खो दिया, उसने तब भी कहा था मैं इसलिए जाग रहा हूं क्योंकि मेरा समाज सो रहा है।

रीतू सिंह द्वारा पीड़ा जाहिर करने पर सुप्रीम कोर्ट के जानें माने वकील महमूद प्राचा ने यह केस अपने हाथ में लेते हुए कहा हैं कि “हमने यह केस ले लिया है. अब आप सबसे सहयोग की दरखास्त है. शांतिपूर्ण आंदोलन अदालत की कार्यवाही के साथ साथ बहुत ज़रूरी सब मदद करें।”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button