राजनीति

BJP छोड़कर समाजवादी पार्टी में आए स्वामी प्रसाद मौर्य सोशल एक्टिविस्ट कुश अंबेडकरवादी के सवाल पर डिबेट छोड़कर भागे

कुश अंबेडकरवादी ने पूछा था कि, जो दलित,पिछड़ों की चिंता का ज्ञान आपको अभी प्राप्त हुआ वो ज्ञान आपकी बेटी को सांसदी पूरे होने पर 2024 में होने वाला है क्या?

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी छोड़कर भागने वाले नेता अब टीवी डिबेट भी छोड़कर भागने लगें हैं।

हाल ही में भारतीय जनता पार्टी (BJP) छोड़कर समाजवादी पार्टी का दामन थामने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य ने कुश अंबेडकरवादी के तीखे सवाल पर डिबेट भी छोड़ दी।

TV9 भारतवर्ष की प्राइम टाइम डिबेट पर स्वामी प्रसाद मौर्य से सोशल एक्टिविस्ट कुश अंबेडकरवादी ने पूछा कि “जो दलित,पिछड़ों की चिंता का ज्ञान आपको अभी प्राप्त हुआ वो ज्ञान आपकी बेटी को सांसदी पूरे होने पर 2024 में होने वाला है क्या।”

जिसके बाद स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि ये परंपरा कांग्रेस और बीजेपी लाई हैं और इसके कुछ देर बाद वह डिबेट बीच में ही छोड़कर चले गए।

कुश अंबेडकरवादी ने अपने सवाल की विडियो शेयर करते हुए लिखा है कि “क्या मेरा सवाल गलत था? अंबेडकरवादी पार्टी बसपा से पहचान मिलने पर निजी स्वार्थों में भाजपा और सपा में जाने वाले किस मुंह से खुद को दलित हितैषी बोलते है।”

कुश अंबेडकरवादी का कहना हैं कि “मैं स्वामी प्रसाद मौर्य जी को चैलेंज करता हूं कि वो कितने बड़े दलित हितैषी है इस मुद्दे पर वो किसी भी प्लेटफार्म पर आकर मुझे बहस कर ले. हमने पिछले पांच साल स्वामी प्रसाद मौर्य की तरह भाजपा की मलाई नही खाई है बल्कि जमीन पर संघर्ष करते हुए लाठियां खाई है।”

आपको बता दें कि स्वामी प्रसाद मौर्य की बेटी संघमित्रा मौर्य अभी भाजपा में ही हैं और लोकसभा सांसद हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button