भारत

योगी आदित्यनाथ ने कहा- पहले हज हाउस बनता था हमने कैलाश मानसरोवर बनवाया, वसीम अकरम त्यागी बोले- बिना मुसलमान का नाम लिए आपका एक दिन भी नही कटता

पत्रकार वसीम अकरम त्यागी ने कहा, योगी आदित्यनाथ इतनी बार तो आप राम का नाम नहीं लेते जितनी बार मुसलमान नाम की माला जपते है

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव हो और भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के मुंह से हिंदू – मुस्लिम का विभाजन करने की बात न हो ऐसा तो हो ही नहीं सकता।

विभाजन की राजनीति को आगे बढ़ाते हुए एक बार फिर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने मुंह से मंदिर मस्जिद की बात कर दी।

योगी आदित्यनाथ ने एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि “पहले गाजियाबाद में हज हाउस बनता था, हमारी सरकार ने कैलाश मानसरोवर का भवन बनाया।”

योगी आदित्यनाथ के इस बयान पर पत्रकार वसीम अकरम त्यागी ने कहा “योगी आदित्यनाथ इतनी बार तो आप राम का नाम नहीं लेते जितनी बार मुसलमान नाम की माला जपते है. उस ख़ुदा का शुक्र है कि उसने अपनी क़ौम को आपकी रोज़ी रोटी का ज़रिया बना रखा है. बिना मुसलमान का नाम लिए आपका एक भी दिन पूरा नहीं होता. सोचो मुसलमान कितनी बेहतरीन क़ौम है।”

वसीम अकरम त्यागी के बाद एक अन्य पत्रकार श्याम मीरा सिंह ने भी योगी आदित्यनाथ पर हमला बोलते हुए कहा कि “सिर्फ़ साम्प्रदायिक एजेंडा चलाया है आपने, एक काम नहीं किया. जनता इस चुनाव में मठ पहुँचाएगी वापस।”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button