भारत

फ्रांस में कट्टरपंथियों ने तीन मस्जिदों पर हमला किया, हमलावरों ने मस्जिद की दीवारों पर इस्लाम विरोधी लेख लिखे

हमलावरों ने मस्जिदों की दीवार पर क्रॉस के निशान भी बनाए

बीते दिनों फ्रांस की तीन मस्जिदों पर कट्टरपंथियों ने हमला कर दिया. यह मस्जिद फ्रांस के अलग अलग शहर मॉन्टलेबन, पोंटारलियर और रूबैक्स में स्थित हैं।

हमलावरों ने मस्जिदों पर हमला देर रात को किया था जिस वक्त मस्जिद में बहुत कम लोग होते हैं. जिसको देखकर लगता हैं कि इन हमले की बहुत पहले से तैयारी हो रहीं थीं।

हमलावरों ने मस्जिदों को दीवार पर इस्लाम विरोधी लेख लिखे तथा क्रॉस के निशान भी बनाए।

तुर्की-इस्लामिक यूनियन फॉर रिलिजियस अफेयर्स (DITIB) ने मस्जिद पर हुए हमले की निंदा करते हुए कहा हैं कि “मस्जिदों को बहाल करने के लिए वसूली के प्रयास शुरू कर दिए गए हैं।

डीआईटीआईबी ने सुरक्षा बलों और फ्रांसीसी अधिकारियों को उनके सहयोग के लिए और फ्रांसीसी लोगों को उनके समर्थन के लिए धन्यवाद भी दिया हैं।

आप को बता दे कि हाल ही के दिनों में यूरोपीय देशों में इस्लाम विरोधी घटनाएं बढ़ गई हैं. आरोप हैं कि फ्रांस के सर्वोच्च अधिकारियों ने इस्लामोफोबिया की लपटों को भड़काया है।

इन हमलों को फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों की मुस्लिम विरोधी बयानबाजी से भी जोड़कर देखा जा रहा हैं. इमैनुएल मैक्रों ने दक्षिणपंथी समूहों के बीच मुस्लिम विरोधी भावनाओं की लहर पैदा की हैं।

नेशनल ऑब्जर्वेटरी ऑफ इस्लामोफोबिया के अनुसार फ्रांस में इस्लामोफोबिक घटनाओं की संख्या पिछले साल तेजी से बढ़ी हैं. 2020 में फ्रांस में मुसलमानों पर 235 हमले हुए तथा उसी साल मस्जिदों पर भी हमले 35 फीसदी बढ़े।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button